Akshansh Rekha Kise Kahate Hain

Akshansh Rekha Kise Kahate Hain

Akshansh Rekha Kise Kahate Hain: हेलो स्टूडेंट्स, आज हमने यहां पर अक्षांश रेखा की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण के बारे में विस्तार से बताया है।Akshansh Rekha Kise Kahate Hainयह हर कक्षा की परीक्षा में पूछा जाने वाले यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है।

Akshansh Rekha Kise Kahate Hain

अक्षांश रेखा ग्लोब या मानचित्र पर खींची गई एक महत्वपूर्ण रेखा है। यह ग्लोब या मानचित्र पर पश्चिम से पूर्व खींची जाती है।Akshansh Rekha Kise Kahate Hain इस रेखा से पृथ्वी पर किसी भी स्थान के “उत्तर-दक्षिण” स्थिति ज्ञात की जाती है। यह रेखा किसी भी दो स्थान के बीच दिन और रात की अवधि में अंतर पता लगाने में मदद करता है। इस रेखा से जलवायु को समझने में आसानी होती है। इस पोस्ट में what is latitude देखने जा रहे हैं।

☆ अक्षांश रेखा की परिभाषा

“भूमध्य रेखा के उत्तर या दक्षिण धरातल पर दिए गए किसी बिंदु से तथा पृथ्वी के केंद्र के बीच कोणिय कोण के माप दूरी को अक्षांश कहते हैं।” समान्यतः अक्षांशों को मिलाने वाली रेखा को अक्षांश रेखा कहते हैं।Akshansh Rekha Kise Kahate Hain आसान भाषा में कहे तो ग्लोब या मानचित्र पर पश्चिम से पूर्व विषुवत रेखा के समानान्तर (Parallels) खींची गयी रेखा या वृत को अक्षांश रेखा कहते हैं।

इसे भी पढ़े:Chakrawat Kise Kahate Hain – चक्रवात किसे कहते हैं?

☆ अक्षांश रेखा की विशेषताएं

• ये सभी रेखाएं वृतों के रूप में खींची जाती है।

• ये वृत पृथ्वी के अक्ष पर लंबवत् दिशा में होते हैं और इसका केंद्र पृथ्वी के अक्ष पर स्थित होता है।

• भूमध्य रेखा पृथ्वी को दो बराबर भागों में बांटती है। यह 0° की अक्षांश रेखा है।Akshansh Rekha Kise Kahate Hain इसलिए अन्य अक्षांश रेखाओं की गणना भूमध्य रेखा के संदर्भ में ही की जाती है। भूमध्यरेखा के उत्तर तथा दक्षिण में क्रमश 90° उत्तर तक तथा 90° दक्षिण तक अक्षांश रेखाएं खींची जा सकती है। जो अक्षांश रेखाएं भूमध्य रेखा के उत्तर में है उन्हें ‘उत्तरी अक्षांश रेखाएं’ जो अक्षांश रेखाएं भूमध्य रेखा के दक्षिण में हैं उन्हें ‘दक्षिणी अक्षांश रेखा’ कहते हैं।

• अन्य सभी अक्षांश रेखाओं की लंबाई भूमध्य रेखा की लंबाई से कम होती है। इसलिए इन्हें लघु वृत्त भी कहते हैं। वास्तव में भूमध्य रेखा से ध्रुव की ओर जाने पर अक्षांश रेखाओं की लंबाई निरंतर कम होते जाती है। भूमध्य रेखा की लंबाई लगभग 40 हजार किलोमीटर हैAkshansh Rekha Kise Kahate Hain। जबकि ध्रुव एक बिंदु मात्र है और उसकी लंबाई शुन्य है।

• चुंकि भूमध्य रेखा सभी अक्षांशों से लंबी है इसलिए से वृहत वृत अथवा महान वृत (Great Circle) कहते हैं।

चूंकी

• विषुवत वृत के उत्तरी भाग को ‘उत्तरी गोलार्ध‘ तथा दक्षिण भाग को ‘दक्षिणी गोलार्ध‘ कहा जाता है।

• प्रत्येक 1 डिग्री के अंतराल पर खींचे जाने पर किसी दो क्रमागत अक्षांश रेखाओं के बीच की दूरी लगभग 111 किलोमीटर होती है।

इसे भी पढ़े:Muhavare Kise Kahate Hain- मुहावरें किसे कहते है?

☆ अक्षांश रेखाओं की संख्या

• अक्षांश रेखाएं काल्पनिक होती हैं। इनकी संख्या अनंत है एक अंश पर खींचे जाने पर अक्षांश रेखाओं की कुल संख्या 181 (

{90 (उतरी अक्षांश रेखा) +90 (उतरी अक्षांश रेखा) +1 विषुवत रेखा} है।

• यदि दोनों ध्रुव को रेखा न माना जाए क्योंकि ये बिंदु हैAkshansh Rekha Kise Kahate Hain तो कुल अक्षांश रेखाओं की संख्या 179 {89 (उतरी अक्षांश रेखा) +89 (उतरी अक्षांश रेखा) +1 विषुवत रेखा} होगी। यदि विषुवत रेखा को भी इसमें शामिल नहीं किया जाय तो पूर्ण अक्षांश रेखाओं की संख्या 180 या 178 कहा जा सकता है।

अक्षांश रेखाओं की संख्या

अक्षांश रेखाओं की संख्या 181 है। अगर दोनों ध्रुवों को रेखा नहीं माना जाता है तो इसकी संख्या 179 है क्योंकि ये बिंदु हैं। किसी स्थान की भूमध्य रेखा से उत्तर तथा दक्षिण की ओर कोणात्मक दूरी (Angular Distance) को उस स्थान का अक्षांश कहते हैं। एक ही कोणात्मक दूरी वाले स्थानों को मिलाने वाली रेखा को अक्षांश रेखा (Latitude) कहते हैं।Akshansh Rekha Kise Kahate Hain भूमध्य रेखा से ध्रुवों तक 90° अक्षांश होते हैं (दोनों ध्रुवों की ओर 90°-90°)। भूमध्य रेखा (Equator) से हम ज्यों-ज्यों ध्रुवों की ओर जाएंगे, अक्षांश रेखा का मान बढ़ता जाएगा। यदि हम भूमध्य रेखा से उत्तर की ओर जाएंगे, तो उस स्थान का अक्षांशीय मान (°N) में लिखेंगे और दक्षिण जाने पर (°S) में लिखेंगे। सभी अक्षांश रेखाएं समान्तर होती हैं और दो अक्षांशों के मध्य की दूरी लगभग 111 किमी होती है।

आर्टिकल में अपने पढ़ा कि अक्षांश रेखाएं  किसे कहते हैं, हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.