Apvartan Kise Kahate Hain

Apvartan Kise Kahate Hain

Apvartan Kise Kahate Hain: हेलो स्टूडेंट्स, आज हमने यहां पर भिन्न की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण के बारे में विस्तार से बताया है।Apvartan Kise Kahate Hain यह हर कक्षा की परीक्षा में पूछा जाने वाले यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है।

Apvartan Kise Kahate Hain

आपतन कोण की ज्या तथा अपवर्तन कोण की ज्या का अनुपात एक नियतांक होता है।Apvartan Kise Kahate Hain जिसे पहले माध्यम के सापेक्ष दूसरे माध्यम का अपवर्तनांक कहते हैं।

\frac { sin i }{ sin r }– नियतांक { _{ 1 }{ n }_{ 2 } }

  • अपवर्तनांक किसी भी माध्यम का वह गुण होता है जिसके आधार पर उस माध्यम में प्रकाश किस वेग से गति करेगा यह निर्धारित होता है।
  • अर्थात अपवर्तनांक के आधार पर ही हम उस माध्यम में प्रकाश के वेग को परिभाषित या ज्ञात कर सकते है।

इसे भी पढ़े:koshika kise kahate hain – कोशिका की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण

यह दो प्रकार का हो सकता है

1. निरपेक्ष अपवर्तनांक (Absolute refractive index)

2. सापेक्ष अपवर्तनांक (refractive index)

1. निरपेक्ष अपवर्तनांक (Absolute refractive index)

  • जब प्रकाश की किरण वायु से किसी माध्यम में गति करती है तो हम वायु के सापेक्ष उस माध्यम का अपवर्तनांक ज्ञात करते है जिसे निरपेक्ष अपवर्तनांक कहते है।
  • अर्थात वायु के सापेक्ष किसी माध्यम का अपवर्तनांक निरपेक्ष अपवर्तनांक कहलाता है।
  • वायु के प्रकाश का वेग c है तथा दिए गए माध्यम में प्रकाश का वेग v है तो निरपेक्ष अपवर्तनांक (n) को निम्न प्रकार लिखा जाता है
  • निरपेक्ष अपवर्तनांक (n) = प्रकाश का वायु में वेग / प्रकाश का माध्यम में वेग
  • n = c/v
  • यह एक अदिश राशि है जिसका कोई मात्रक नहीं होता तथा कोई विमा नहीं होती अर्थात यह मात्रक तथा विमाहीन राशि है।

इसे भी पढ़े:Boli Kise Kahate Hain

2. सापेक्ष अपवर्तनांक (refractive index)

  • जब प्रकाश एक पारदर्शी माध्यम से दूसरे पारदर्शी माध्यम में गमन करती है तो पहले माध्यम के सापेक्ष दूसरे माध्यम का अपवर्तनांक सापेक्ष अपवर्तनांक कहलाता है।

आर्टिकल में अपने पढ़ा कि अपवर्तनांक किसे कहते हैं, हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.