Yogik Kise Kahate Hain

Yogik Kise Kahate Hain-योगिक किसे कहते हैं

Yogik Kise Kahate Hain:हेलो स्टूडेंट्स, आज हमने यहां पर यौगिक की परिभाषा, प्रकार और उदाहरण के बारे में विस्तार से बताया है।Yogik Kise Kahate Hainयह हर कक्षा की परीक्षा में पूछा जाने वाले यह एक महत्वपूर्ण प्रश्न है।

Yogik Kise Kahate Hain

यौगिक एक ऐसा पदार्थ होता है जो रासायनिक रूप से दो या दो से अधिक तत्वों के नियत अनुपात के संयोग से बनता है।

 उदाहरण के लिए जल एक यौगिक है जो हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के 1 : 8 अनुपात के संयोग से बनता है।

यहाँ जल का गुण इसके अवयवी तत्व हाइड्रोजन एवं ऑक्सीजन के गुणों से भिन्न हैं।

इसी प्रकार चीनी, नमक, मीथेन,बालू, कार्बन डाइऑक्साइड, विरंजक चूर्ण, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, अमोनिया इत्यादि यौगिक के उदाहरण हैं।

जल एक यौगिक है

जल के यौगिक होने के निम्नलिखित मुख्य कारण हैं-

  • किसी भी भौतिक विधि (छानना, वाष्पन, आसवन आदि) से जल को इसके अवयवों में अलग-अलग नहीं किया जा सकता है।
  •  जल के गुण इसके अवयवों (हाइड्रोजन और ऑक्सीजन) के गुणों से बिल्कुल भिन्न होते हैं। उदाहरण के लिए जल द्रव है जबकि हाइड्रोजन और ऑक्सीजन गैस होते हैं।
  • जल अज्वलनशील होता है जबकि हाइड्रोजन ज्वलनशील होता Yogik Kise Kahate Hainहै। जल ज्वलन का पोषक नहीं होता।
  • जबकि ऑक्सीजन ज्वलन का पोषक होता है।
  • हाइड्रोजन को ऑक्सीजन में जलाने पर जल बनता है और इस प्रक्रिया में ऊष्मा उत्सर्जित होती है।

इसे भी पढ़े: स्वर संधि किसे है? भेद , उदाहरण

यौगिक के बारे मे तथ्य

  • शुद्ध पदार्थ तत्व अथवा यौगिक होते हैं जबकि अशुद्ध पदार्थ मिश्रण होते हैं।
  • मिश्रण में एक से अधिक पदार्थ किसी भी अनुपात में मिले होते हैं एवं मिश्रण के अवयवों के गुण मिश्रण में उपस्थित होते हैं। मिश्रण समांगी अथवा विषमांगी कुछ भी हो सकते हैं।
  • दो या दो से अधिक पदार्थों के समांगी मिश्रण से विलयन का निर्माण होताYogik Kise Kahate Hain है। विलयन के मुख्य घटक को विलायक एवं अन्य घटक को विलेय कहते हैं।
  • विलेय कण को परिक्षेपित कण तथा विलायक को परिक्षेपण माध्यम कहते हैं।
  • मुख्यतः विलयन के तीन प्रकार–संतृप्त, असंतृप्त एवं अतिसंतृप्त होते हैं।
  • विलयन के एक निश्चित द्रव्यमान अथवा आयतन में घुले हुए विलेय की मात्रा को विलयन की सान्द्रता कहते हैं।
  • विलयन की सांद्रता विलयन के द्रव्यमान प्रतिशत और विलयन के आयतन प्रतिशत के रूप में व्यक्त की जाती है।
  • विषमांगी मिश्रण जिसमें ठोस के कण बिना घुले पूरे द्रव में फैले रहते हैं, निलंबन कहलाते हैं एवं निलंबन के कण को नंगे आँखों से देखा जा सकता है।
  • कोलायड्स एक विषमांगी मिश्रण है। इसके कणों को नंगी आँखों से नहीं देखा जा सकताYogik Kise Kahate Hain है। लेकिन इसके कण टिण्डल प्रभाव को प्रदर्शित करते हैं।
  • तत्व पदार्थ का मूल रूप है जिसे रासायनिक प्रतिक्रिया द्वारा अन्य सरल पदार्थों में विभाजित नहीं किये जा सकते हैं।
  • यौगिक वह पदार्थ है, जो रासायनिक रूप से दो अथवा दो से अधिक तत्वों के एक नियत अनुपात में संयोग से बनता है। यौगिक के गुण उनके अवयवी तत्वों के गुणों से भिन्न होते हैं |

आर्टिकल में अपने पढ़ा कि यौगिक  किसे कहते हैं, हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.